Wednesday , 23 June 2021

मप्र में 24 घंटें में 2142 नए केस व 10 मौतें

भोपाल (Bhopal) . मप्र में कोरोना की दूसरी लहर की रफ्तार तेजी से बढ़ती जा रही है. प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 2142 नए केस मिले हैं. भोपाल (Bhopal) , इंदौर, जबलपुर (Jabalpur)और अब उज्जैन में संक्रमण तेजी से फैल रहा है. भोपाल (Bhopal) में रिकार्ड 460 केस आए हैं. इससे पहले एक दिन में संक्रमितों का इतना बड़ा आंकड़ा सामने नहीं आया. इसी तरह इंदौर (Indore) में 619, जबलपुर (Jabalpur)में 159 और उज्जैन में 85 नए केस मिले हैं.

संक्रमण की रफ्तार फिलहाल कम होती दिखाई नहीं दे रही है. हालांकि जिन शहरों में पॉजिटिव केस बढ़ रहे हैं, ऐसे 12 शहरों में सरकार ने रविवार (Sunday) का लॉकडाउन (Lockdown) कर दिया है. लेकिन शहरों की संख्या और बढ़ सकती है.

10 दिन में चिंताजनक स्थिति

प्रदेश में संक्रमण दर पिछले 10 दिन में 3 प्रतिशत से ज्यादा बढऩा चिंताजनक है. यानी कोरोना जिस तेजी से फेल रहा है, इसके ट्रेंड से लगता है कि आने वाले दिनों में पॉजिटिव मरीजों की संख्या में इजाफा होगा. 17 मार्च को संक्रमण दर 5.3 प्रतिशत थी, जो 26 मार्च को बढ़ कर 8.2 प्रतिशत पहुंच गई है. देश के कुल एक्टिव केस 4,21,066 से तुलना करें तो मप्र में इसका 3.08 प्रतिशत हैं. यहां एक्टिव केस की संख्या 12,995 पहुंच गई है. मप्र में कुल संक्रमितों की संख्या 2,86,407 हो गई है, जबकि 2,69,465 मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं.

सबसे ज्यादा संक्रमण दर भोपाल (Bhopal) में

अगर एक सप्ताह के आंकड़े देखें तो भोपाल (Bhopal) में इंदौर (Indore) से ज्यादा केस सामने आए, लेकिन संक्रमण दर इंदौर (Indore) से ज्यादा है. इतना ही नहीं, छोटे शहरों में जहां बड़े शहरों की तुलना में बहुत कम पॉजिटिव केस आ रहे है, लेकिन वहां संक्रमण की दर ज्यादा है, जो बड़े खतरे की तरफ इशारा कर रही है. एक सप्ताह में बैतूल में 15.83 प्रतिशत और खरगोन में 12.09 प्रतिशत दर्ज की गई.

तीन दिन में 28 मौतें

मप्र में पिछले 3 दिन में कोरोना से 28 लोगों की जान चली गई है. पिछले 24 घंटे में 10 लोगों की मौत हुई है. मार्च के महीने में यह एक दिन में मरने वालों की सबसे ज्यादा संख्या है. 24 और 15 मार्च को 9-9 मरीजों ने इलाज के बाद दम तोड़ दिया था. अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,947 पहुंच गई है.

Please share this news