Friday , 25 June 2021

त्यौहारों में २ गज की दूरी बेहद जरुरी

जबलपुर, 26 मार्च . शहर में 15 मार्च को 44 कोरोना पाजिटिव आए थे और 25 मार्च आते आते यह आंकड़ा 156 हो गया. 10 दिन के अंदर अचानक बढ़े कोरोना ग्राफ से अधिकारियों से लेकर शहरवासी तक सब आवक रहे गये हैं. कोरोना के सेकंड अटैक का कारण बीमारी के विशेषज्ञ व चिकित्सक लोगों की लापरवाही को ही मान रहे हैं.

चिकित्सकों-वैज्ञानिकों का मानना है कि दिसंबर-जनवरी में हुई लापरवाही का ही असर है कि देश में कोरोना के केस रिकॉर्ड बढ़े हैं. शहर की बात करें तो धार्मिक त्योहारों, व्यापारिक गतिविधियों, दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति के दौरान जिस तरह की असुरक्षित भीड़ निकली, वो कोरोना के री-अटैक का बड़ा कारण बनीं. अब प्रशासन के सामने सबसे बड़ी चुनौती किसी भी तरह की भीड़ को एकत्र होने से रोकना है. लेकिन त्योहारों के मौसम में यह आसान नहीं होगा.

विशेषज्ञोंं का मानना है की वैक्सीन से अधिक जरूरी दो गज की दूरी है. न सिर्फ सामूहिक आयोजनों बल्कि आम दैनिक चर्या में भी जहां तक संभव हो, लोग मिलने-जुलने से परहेज करें. शारीरिक संपर्क, हाथ मिलाना, गले मिलना बीमारी के प्रसार की दृष्टि से खतरनाक हो सकती है. अत: आने वाले दिनों में पड़ने वाले त्यौहारों में दो गज दूरी की आवश्यकता अनुभव की जा रही है. मास्क हो सबकी निजी जिम्मेदारी एक्सपर्ट ये भी मान रहे हैं कि मास्क जैसी आवश्यक सुरक्षा को लेकर सरकार कितना भी केंपेंन क्यों न चला ले, जब तक इसे लोग निजी स्तर पर खुद की जिम्मेदारी से नहीं जोड़ेंगे, तब तक रक्षा-सुरक्षा के सारे प्रयास नाकामयाब ही होंगे. अत: बेहतर हो कि लोग न सिर्फ मास्क पहने, बल्कि अपने परिजनों, पुरजनों को भी मास्क पहनने प्रेरित करें. शासकीय स्तर पर बरती जाने वाली सख्ती ज्यादा कारगर नहीं होगी.

व्यापार जगत सहयोग को तैयार…………

कोरोना की गाइड लाइन का पालन करने के लिए व्यापार जगत प्रशासन सहित स्वास्थ्य विभाग को सहयोग करने के लिए तैयार है. इसका कारण बीते वर्ष लॉकडाउन (Lockdown) का व्यापारिक असर वह झेल चुका है. यही कारण है कि व्यापारिक संगठन लॉकडाउन (Lockdown) के फेवर में नहीं हैं. वे चाहते हैं कि कोरोना की री-एंट्री का मिलकर मुकाबला किया जाये. कोरोना से बचने के लिए व्यापारी-ग्राहक दोनों मिल कर आगे आएं.

पहेली बना रेल सौरभ कॉलोनी का आयोजन………….

वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया (Media) में चर्चा व्याप्त है की रेल सौरभ कॉलोनी में कोरोना विस्फोट हुआ है यहां करीब दो दर्जन से अधिक व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव सामने आए हैं. मामले की गंभीरता को देखते हुये जांच कराने की बात कर रहा है. उल्लेखनीय है कि रविवार (Sunday) को लॉकडाउन (Lockdown) के दिन रेल सौरभ कालोनी में खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया था. सुबह 10 बजे से शुरू हुआ कार्यक्रम शाम 4 बजे तक चलता रहा जिसमें बैडमिंटन, टेबिल टेनिस, कैरम की प्रतियोगिताओं के अलावा खाना पीना और जमकर नाच- गाना भी हुआ था. लॉकडाउन (Lockdown) वाले दिन रेलसौरभ कालोनी के अंदर रेलवे (Railway)अधिकारियों,कर्मचारियों के अलावा अन्य कोई प्रवेश न कर सके इसलिए पूरा आयोजन आरपीएफ के सख्त पहरे में करवाया गया था. कालोनी के मुख्य एंट्री गेट पर पर आरपीएफ की तैनाती करवा दी गई थी.

Please share this news