Monday , 10 May 2021

15 दिन में ही सभी फ्लैटों के लिए हो गया रजिस्ट्रेशन

नई दिल्ली (New Delhi) .दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने अपने फ्लैटों का निर्माण क्या सुधारा, इन्हें खरीदने वालों का तांता लग गया है. आलम यह है कि नई आवासीय योजना लांच हुए अभी केवल 15 दिन ही हुए हैं, जबकि सभी फ्लैट बुक हो गए हैं. इतने फ्लैट भी नहीं हैं, जितने लोगों ने धरोहर राशि का भुगतान कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक आवासीय योजना 2021 में कुल 1354 फ्लैट हैं. इनमें जसोला और वसंत कुंज के 254 एचआइजी, द्वारका, वसंत कुंज, रोहिणी और जहांगीरपुरी के 757 एमआइजी, द्वारका, रोहिणी, कोंडली- घरोली के 52 एमआइजी तथा मंगलापुरी, द्वारका और नरेला के 291 ईडब्ल्यूएस फ्लैट शामिल हैं. इन फ्लैटों की कीमत 7.55 लाख से 2.14 करोड़ रुपये तक है. दो जनवरी को लांच इस योजना के तहत 16 फरवरी तक आवेदन किया जा सकता है, लेकिन रविवार (Sunday) 17 जनवरी तक के आंकड़ों पर ही नजर दौड़ाएं तो 1354 फ्लैटों के लिए करीब 2,258 लोगों ने आवेदन के साथ-साथ धरोहर राशि का भी भुगतान कर दिया है. मालूम हो कि ईडब्ल्यूएस फ्लैट के लिए धरोहर राशि 25 हजार, एलआइजी के लिए एक लाख तथा एमआइजी-एचआइजी के लिए दो लाख रुपये है.

डीडीए अधिकारियों के मुताबिक रविवार (Sunday) तक इस आनलाइन योजना के लिए 46 हजार से अधिक लोग डीडीए की वेबसाइट पर पंजीकरण करा चुके हैं. करीब 8,386 लोग अपना फार्म भर चुके हैं. फ्लैटों की श्रेणी के हिसाब से गौर करें तो एमआइजी और एचआइजी फ्लैटों के लिए 1,414 लोग दो दो लाख रुपये जमा करा चुके हैं. एलआइजी फ्लैटों के लिए 352 लोग एक- एक लाख की अदायगी कर चुके हैं, जबकि ईडब्ल्यूएस फ्लैटों के लिए 25-25 हजार रुपये जमा कराने वालों की संख्या 492 पहुंच चुकी है. पिछली आवासीय योजनाओं की तुलना में कीमत कहीं अधिक होने के बावजूद इस बार इन फ्लैटों को खरीदने वालों की संख्या ज्यादा है तो इसकी प्रमुख वजह डीडीए द्वारा फ्लैटों के निर्माण में सुधार करना ही है. इनकी लोकेशन तो अपेक्षाकृत बेहतर है ही, इनका साइज भी पहले से अधिक है. इसी तरह से फ्लैटों में लगाई गई सामग्री भी अच्छी गुणवत्ता वाली है.

Please share this news