Wednesday , 16 June 2021

दिल्ली में अब 40 हजार की जगह 1.25 लोगों को प्रतिदिन लगाई जाएगी वैक्सीन

नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली के मुख्यमंत्री (Chief Minister) अरविंद केजरीवाल ने पिछले कुछ दिनों में दिल्ली के अंदर कोरोना के केस में हुई मामूली बढ़ोतरी पर काबू पाने को लेकर आज स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना केस में मामूली बढ़ोतरी हुई है, घबराने की कोई बात नहीं है. दिल्ली सरकार बहुत बारीकी से कोरोना की स्थिति पर नजर बनाए हुए है और सभी जरूरी कदम उठा रहे हैं. दिल्ली में अब 40 हजार की जगह 1.25 लोगों को प्रतिदिन वैक्सीन लगाई जाएगी. साथ ही, वैक्सीनेशन सेंटर 500 से बढ़ा कर 1 हजार किए जाएंगे. सरकारी सेंटर्स पर सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक वैक्सीन लगाई जाएगी. उन्होंने केंद्र सरकार (Central Government)से अपील की कि वैक्सीन सबके लिए खोल दी जाए और राज्य सरकारों को युद्ध स्तर पर वैक्सीनेशन की इजाजत दी जाए. अगर केंद्र सरकार (Central Government)सबको वैक्सीन लगाने की छूट देती है और हमें पर्याप्त वैक्सीन मिलती है, तो हम 3 महीने में पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगा सकते हैं. सीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वैक्सीन लगवाने में हिचकिचाए नहीं, जो लोग भी योग्य हैं, वे वैक्सीन अवश्य लगवाएं.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली मे ंपिछले कुछ दिनों से कोरोना के केस में थोड़ी बढ़ोतरी देखने को मिली है. पिछले साल जून में, फिर सितंबर में, फिर नवंबर में अचानक से केस बढ़े थे, जब 8 हजार, 7 हजार और 6 हजार तक केस आए थे. अभी उस तरह की स्थिति तो नहीं है. पिछले कुछ हफ्तों के अंदर एक वक्त ऐसा था, जब हम लोग 100-125 केस प्रतिदिन पर पहुंच गए थे, लेकिन पिछले कुछ दिनों में खासकर पिछले 3 दिन में केस में थोड़ी बढ़ोतरी ज्यादा देखने को मिली है और कल 500 से ज्यादा केस देखने को मिले. इसे ध्यान में रखते हुए आज हमारी सरकार ने इस पर चिंता जताई है. सबसे पहले मैं यह कहना चाहता हूं कि कोरोना केस में बढ़ोतरी है, लेकिन यह बहुत मामूली बढ़ोतरी है, अभी घबराने की कोई बात नहीं है. चूंकि केस बहुत ज्यादा कम हो गए थे और जब हम प्रतिशत के तौर पर देखें, तो प्रतिशत ज्यादा लगता है, लेकिन नंबर के तौर पर देखें, जैसा कि मैंने बताया कि पहले 6-7 हजार केस होते थे और अब 500 के करीब केस हैं. इसलिए पहली बात यह कि घबराने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है और दूसरी बात कि हम बहुत बारीकी से पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. हमें जो भी करने की जरूरत है, हम वे सारे कदम उठा रहे हैं.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार के अपने जो विशेषज्ञ हैं, उनकी राय ली जा रही है. साथ ही, केंद्र सरकार (Central Government)के जो विशेषज्ञ हैं, दिल्ली सरकार लगातार उनके भी संपर्क में बनी हुई है. उन सभी विशेषज्ञों से हम राय ले रहे हैं और वे जो-जो बता रहे हैं, वह सारे कदम उठाए जा रहे हैं. सीएम ने कहा कि चूंकि पिछले कुछ हफ्तों में केस कम हो गए थे, तो पूरे सिस्टम के अंदर थोड़ी बहुत ढीलाई आ गई थी. लेकिन आज आज सख्त आदेश जारी कर दिए गए हैं कि जो हमारा ट्रैकिंग, ट्रेसिंग, आइसोलेशन के पूरे सिस्टम को और सख्ती के साथ लागू करना है. सर्विलेंस को सख्ती के साथ लागू करना है और एनफोर्समेंट बहुत सख्त करना है. अब हमें मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे सभी दिशा-निर्देशों को सख्ती के साथ लागू करनी है.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जैसा कि हम जानते हैं कि जनवरी के महीने से देश भर में वैक्सीनेशन का कार्यक्रम शुरू हो गया. वैक्सीन लगाने के बाद काफी ज्यादा संभावना होती है कि उस व्यक्ति को दोबारा कोरोना नहीं होगा और आज की तारीख में वैक्सीन एक तरह से कोरोना से बचने का सबसे प्रभावी तरीका है. एक तरफ तो वैक्सीन आ गई है और दूसरी, तरफ अगर कोरोना के केस बढ़ें, तो यह सही नहीं है. हम लोगों ने आज इस पर भी चर्चा की है. अभी हम दिल्ली के अंदर लगभग 30 से 40 हजार लोगों को प्रतिदिन वैक्सीन लगा लगा रहे हैं. इसमें दोनों चीजें हैं. एक तरफ सिस्टम के अंदर जो भी कमियां हैं, उन कमियों को दूर किया जाएगा, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा सके और दूसरी तरफ, जो लोग अभी भी वैक्सीन लगवाने में हिचकिचा रहे हैं, उनसे मैं अपील करना चाहता हूं कि वैक्सीन लगवाने के लिए हिचकिचाने की जरूरत नहीं है. मैंने और मेरे माता-पिता के साथ काफी लोग वैक्सीन लगवा लिए हैं. वैक्सीनेशन के बाद सब लोग सही हैं और किसी को कोई समस्या नहीं हुई. उल्टा हम सब लोग कोरोना से सुरक्षित हो गए हैं. मैं सब लोगों से अपील करना चाहता हूं कि जो वैक्सीनेशन के लिए योग्य हैं वे वैक्सीन लगवाएं.

Please share this news