Tuesday , 2 March 2021

स्वास्थ्य सचिव के बयान से आहत डॉक्टरों ने मंत्री बन्ना गुप्ता से मुलाकात की

रांची (Ranchi) . राज्य के स्वास्थ्य सचिव नितिन मदन कुलकर्णी के एक बयान से आहत इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की झारखंड इकाई और झासा के एक शिष्टमंडल ने बुधवार (Wednesday) को रांची (Ranchi) में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. बन्ना गुप्ता से मुलाकात की. स्वास्थ्य मंत्री ने मिलने आये प्रतिनिधिमंडल को बताया कि सरकार उनके सम्मान और सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध है.
स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने बाद में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि आईएमए के अध्यक्ष और सदस्यों के नेतृत्व में चिकित्सकों का एक प्रतिनिधिमंडल उनसे मिलने आया था. उनसभी ने बताया कि विभागीय सचिव के बयान से उनकी भावनाएं आहत हुई है.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री (Chief Minister) हेमंत सोरेन का मानना है कि राज्य के चिकित्सों को सम्मान मिले और उनके चेहरे पर मुस्कान आये, उनके चेहरे पर मुस्कान आने पर ही मरीजों के चेहरे पर खुशी आएगी और मरीज के चेहरे पर खुशी आएगी, तो राज्य सरकार (State government) का चेहरा भी खिलखिलाने लगेगा. बन्ना गुप्ता ने कहा कि डॉक्टर (doctor) चिकित्सकों के साथ सम्मान के खड़ी है, बोलचाल की भाषा में यदि कुछ शब्द निकल गये होंगे, तो टीम का कप्तान होने के नाते वे खुद खेद व्यक्त करते है. उन्होंने कहा कि कभी-कभी व्यक्ति बातचीत में कुछ ऐसा शब्द कह जाता है, फिर बाद में सोचता है कि ऐसा नहीं बोलना चाहिए.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य के चिकित्सक काफी सकारात्मक है और उनका सम्मान बढ़े, इस दिशा में सरकार भी प्रयासरत है. एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि रिम्स में चिकित्सीय सुविधा में बढ़ोत्तरी हो, इसके लिए भी प्रयास किये जा रहे है.

इधर, स्वास्थ्य मंत्री से मिलने पहुंचे चिकित्सकों के शिष्टमंडल ने बताया कि स्वास्थ्य सचिव के बयान को आईएमए ने भी संज्ञान में लिया है और इस संबंध में राज्यपाल और मुख्यमंत्री (Chief Minister) को पत्रलिखकर कार्रवाई का आग्रह किया गया है.

Please share this news