Tuesday , 29 September 2020

सुमैया राणा और सैयद उजमा परवीन को हाउस अरेस्ट किया गया

लखनऊ (Lucknow) .लखनऊ (Lucknow) में मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया राणा और घंटाघर की प्रदर्शनकारी सैयद उजमा परवीन को हाउस अरेस्ट कर लिया गया है. यूपी पुलिस (Police) ने दोनों को धारा 144 के उल्लंघन के लिए नोटिस भी थमा दिया है. ये दोनों कोरोना संकट के बीच थाली और ताली बजाकर सीएम हाउस पर विरोध प्रदर्शन करने जा रही थीं. घंटाघर पर नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment law) (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (National citizenship register) (एनआरसी) के खिलाफ हुए विरोध-प्रदर्शन के दौरान मुख्य भूमिका में रहीं उजमा ने कहा कि यह संविधान का हनन है. उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को रोकने में केंद्र की मोदी और सूबे की योगी सरकार, दोनों ही पूरी तरह विफल रही हैं.

वहीं, सुमैया राणा ने कहा कि सरकार (Government) ने थाली बजवाकर कहा था कि इससे कोरोना संक्रमण खत्म हो जाएगा. हमारे थाली और ताली बजाने का मकसद सरकार (Government) को यह याद दिलाना है. सुमैया ने कहा कि ताली और थाली बजाने से कोरोना दूर नहीं हुआ, लेकिन लोगों की थाली से खाने के सामान जरूर गायब हो गए. अब गरीब महिलाएं थाली बजाकर सरकार (Government) को यही एहसास कराना चाहती हैं. वहीं, इस संबंध में लखनऊ (Lucknow) के संयुक्त पुलिस (Police) कमिश्नर नीलाब्जा चौधरी ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के कारण प्रदेश में धारा 144 लागू है. संयुक्त पुलिस (Police) कमिश्नर ने कहा कि प्रदेश में धारा 144 लागू होने के कारण किसी भी प्रकार के धरना-प्रदर्शन, रैली के आयोजन पर पूरी तरह से रोक है.