Friday , 14 May 2021

सीएम खट्टर ने हरियाणा के लिए केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से भेंट कर मांगा 5 हजार करोड़ का बजट

चंडीगढ़ (Chandigarh) . हरियाणा (Haryana) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) मनोहर लाल खट्टर ने राज्य के विकास से जुड़ी कई परियोजनाओं के लिए केंद्र सरकार (Central Government)से केंद्रीय बजट 2021-22 में 5000 करोड़ रुपये प्रदान किए जाने की मांग की है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने यह मांग सोमवार (Monday) को नई दिल्ली (New Delhi) में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बजट पूर्व बैठक में हिस्सा लेने के दौरान की. बैठक में मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने केंद्रीय वित्त मंत्री को हरियाणा (Haryana) की विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं के लिए वित्तीय आवश्यकताओं के बारे में अवगत करवाया.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि लघु सिंचाई परियोजनाओं व तालाबों के जीर्णोद्धार के लिए केंद्रीय बजट, 2021-22 में हरियाणा (Haryana) को 1000 करोड़ रुपये और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के विकास के लिए 1000 करोड़ रुपये प्रदान किए जाने की मांग की गई. इसके अलावा ग्रामीण विकास, कोविड-19 (Covid-19) प्रबंधन, स्वास्थ्य व आधारभूत मेडिकल सुविधाओं के लिए 3000 करोड़ रुपये प्रदान किए जाने की भी मांग की गई है.
मुख्यमंत्री (Chief Minister) मनोहर लाल ने बताया कि केंद्रीय बजट 2021-22 में केंद्र सरकार (Central Government)हरियाणा (Haryana) की बेहतर गतिशीलता के लिए यह प्रावधान करे.

इसके लिए केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के समक्ष तथ्यात्मक रिपोर्ट भी राज्य की तरफ से रखी गई है. प्री-बजट बैठक में हरियाणा (Haryana) के वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टी वी एस एन प्रसाद भी मौजूद रहे. वित्त मंत्री के साथ प्री-बजट में हिस्सा लेने के बाद मुख्यमंत्री (Chief Minister) मनोहर लाल ने सायं रेल भवन में रेल मंत्री पीयूष गोयल से भी राज्य की विभिन्न रेल परियोजनाओं को लेकर चर्चा की. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने बताया कि केंद्र सरकार (Central Government)ने सितंबर 2020 में पलवल से सोहना-मानेसर-खरखौदा होते हुए सोनीपत तक हरियाणा (Haryana) आर्बिटल रेल कारिडोर परियोजना को मंजूरी दी थी.

Please share this news