Friday , 5 March 2021

सत्तापक्ष के कई विधायक व मंत्री गुपचुप तरीके से नक्सलियों से मिलते है-बाबूलाल

धनबाद .राज्य में सत्ता पक्ष के विधायकों का नक्सलियों और उग्रवादियों से गहरी सांठगांठ है, रात के अंधेरे में बगैर सुरक्षाकर्मी के गुपचुप तरीके से झारखंड के कई विधायक व मंत्री नक्सलियों से मुलाकात करते हैं. यह कहना है झारखंड विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के प्रतिपक्ष के नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) बाबूलाल मरांडी का.

सोमवार (Monday) को धनबाद सांसद (Member of parliament) पीएन सिंह के आवास पर मीडिया (Media) को संबोधित करते हुए बाबूलाल मरांडी ने बताया कि राज्य में अराजकता, भ्रष्टाचार एवं विधि व्यवस्था की गिरती स्थिति वर्तमान हेमंत सरकार की देन है. भाजपा के शासनकाल में जहां नक्सली और उग्रवादी राज्य से पलायन कर चुके थे. वही हेमंत सरकार के सत्ता में आते ही एक बार फिर झारखंड उग्रवादियों और अपराधियों के चंगुल में चला गया है. जिससे राज्य में भ्रष्टाचार, अराजकता चरम पर पहुंच गई है. उन्होंने कहा कि पिछले 1 वर्षों में राज्य में सैकड़ों महिलाओं के साथ दुष्कर्म और हत्या (Murder) जैसे जघन्य घटना घटी है. जिसमें 400 से अधिक आदिवासी महिलाओं के साथ बलात्कार हुआ है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) कहते हैं कि झारखंड में आदिवासियों की सरकार है. लेकिन राज्य मे आदिवासी महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं. ऐसी सरकार को नैतिकता को ध्यान में रखते हुए इस्तीफा दे देनी चाहिए.

Please share this news