Friday , 16 April 2021

रिटेल सेक्टर को नए साल से बड़ी उम्मीद

नई दिल्ली (New Delhi) . भारत के रिटेल मार्केट को दुनिया का सबसे ज्यादा प्रॉलिफिक मार्केट माना जाता है. इस मार्केट में अपना प्रभुत्व जमाने के लिए दो अरबपति कारोबारियों में जंग चल रही है. कोविड-19 (Covid-19) महामारी (Epidemic) के दौरान भारत में ऑनलाइन शॉपिंग में भारी उछाल आया है. ऐसे में माना जा रहा है कि अगले साल की पहली छमाही में रिटेल मार्केट का कारोबार कोविड-19 (Covid-19) से पहले के 85त्न स्तर तक पहुंच सकता है. 2025 तक भारत के रिटेल सेक्टर के 1.3 ट्रिलियन डॉलर (Dollar) का होने अनुमान जताया जा रहा है. 2020 की शुरुआत में कोविड-19 (Covid-19) के कारण रिटेल कारोबार बुरी तरह प्रभावित हुआ था. इसी के साथ अरबपति जेफ बेजोस और मुकेश अंबानी के बीच सबसे ज्यादा बूमिंग वाले बाजार में प्रभुत्व जमाने की लड़ाई शुरू हुई थी. यह लड़ाई तब शुरू हुई थी जब मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने अगस्त में देश की दूसरी सबसे बड़ी रिटेल कंपनी फ्यूचर रिटेल को 24,713 करोड़ रुपए में खरीदने की घोषणा की थी. इससे एक साल पहले ही जेफ बेजोस की कंपनी अमेजन ने फ्यूचर रिटेल में अप्रत्यक्ष हिस्सेदारी खरीदी थी. अमेजन इस सौदे का विरोध कर रहा है. अमेजन ने फ्यूचर ग्रुप पर निवेश समझौते के उल्लंघन का आरोप लगाया है.

Please share this news