Monday , 10 May 2021

राहुल गांधी तब कहां थे जब किसान पंजाब में धरना दे रहे थे ? – हरसिमरत कौर

नई दिल्ली (New Delhi) . शिरोमणि अकाली दल नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कृषि कानूनों पर किसानों का समर्थन करने वाली कांग्रेस पर दोहरे मापदंड अपनाने का आरोप लगाया है. हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट करके कहा, ‘राहुल गांधी तब कहां थे जब किसान पंजाब (Punjab) में धरना दे रहे थे? वे तब कहां थे जब बिल संसद में पास हुए? कांग्रेस के 40 सांसद (Member of parliament) राज्‍यसभा की कार्यवाही से गैरमौजूद रहे. उनके पंजाब (Punjab) के सीएम, इस मामले में केंद्र की बीजेपी सरकार से हाथ मिलाए हुए हैं. क्‍या राहुल सोचते हैं कि उनके संवेदना जताने वाले शब्‍द उनके ‘अपराध को धो’ सकते हैं? ‘

ज्ञात रहे कि बादल की पार्टी शिरोमणि अकाली दल बीजेपी के नेतृत्‍व वाली एनडीए सरकार का हिस्‍सा थी लेकिन इन कानूनों के मुद्दे पर उसने अलग राह पकड़ ली. पार्टी को आशंका थी कि ‘विवादित’ कृषि कानून के चलते चलते पंजाब (Punjab) में उसका परंपरागत वोट बैंक (Bank) छिटक सकता है, ऐसे में शिरोमणि अकाली दल से केंद्र सरकार (Central Government)में मंत्री हरसिमरत कौर ने इस्‍तीफा दे दिया. शिरोमणि अकाली दल और कांग्रेस पार्टी, पंजाब (Punjab) में प्रतिद्ंवद्वी हैं और कृषि कानून मामले में बीजेपी पर हमला बोलने के साथ दोनों एक-दूसरे पर आरोप भी लगाती रही हैं.

इससे पहले कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों के साथ एकजुटता दिखाते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका वाड्रा ने आज दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल के घर के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शन की अगुवाई करते हुए राहुल गांधी ने कहा, “बीजेपी सरकार को कृषि कानूनों को वापस लेना ही होगा. जब तक ये कानून निरस्त नहीं होंगे, तब तक कांग्रेस पीछे नहीं हटेगी. ये कानून किसानों की मदद के लिए नहीं हैं, बल्कि उन्हें खत्म करने के लिए हैं.”

Please share this news