Friday , 14 May 2021

म‎हिलाएं समस्याओं को लेकर नहीं होती मुखर

-बालीवुड अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने कहा

मुंबई (Mumbai) . बालीवुड अभिनेता पंकज त्रिपाठी का कहना है कि वह समझ पा रहे हैं कि महिलाएं अपनी शादी के बाद घरेलू हिंसा से लेकर यौन शोषण जैसे मुद्दों को लेकर क्यों चुप रहती हैं. वेब सीरीज ‘क्रिमिनल जस्टिस: बिहाइंड क्लोज्ड डोर्स’ में काम करने वाले पंकज का कहना है ‎कि इस वेब सीरीज की कहानी अनु चंद्रा के इर्द-गिर्द बुनी गई है. यह किरदार कीर्ति कुल्हारी ने निभाया है. इसमें वैवाहिक जीवन में होने वाले यौन शोषण पर प्रकाश डाला गया है. दिखाया गया है कि किस तरह एक पीड़िता बंद दरवाजे के अंदर तमाम यातनाएं सहती रहती हैं. सीरीज में पंकज वकील का किरदार निभा रहे हैं. वह अनु का केस लड़ते हैं.

पंकज कहते हैं, “मैं इस बात से अनजान था कि महिलाएं जब अपनी निजी जिंदगी में किसी तरह की यातना से गुजरती हैं, तो वे चुप क्यों रहती हैं. जब उन्हें अपनी समस्या के बारे में औरों से साझा करने की बात कही जाती है, तो वे चुप्पी साधी रहती हैं. एक पुरुष के तौर पर इन्हें समझना मेरे बस में वाकई में नहीं था.” अभिनेता ने आगे कहा, “यह मुद्दा हमारे समाज में मौजूद है, चाहे शहर हो या गांव, तो फिर क्यों कोई खुलकर इन पर बात नहीं करता है. लेकिन माधव मिश्रा के किरदार को निभाने और अनुराधा चंद्रा ने अपने पति की हत्या (Murder) क्यों की, इस मामले को सुलझाने के बाद मैं आखिरकार समझ पाया कि क्यों उसके जैसी अधिकतर महिलाएं अपनी समस्याओं को लेकर मुखर नहीं रहती हैं.”

वह आगे कहते हैं, “खासकर ये समस्याएं महिलाओं की शादीशुदा जिंदगी से संबंधित होती हैं, क्योंकि जाहिर सी बात है कि समाज की मांग यही रही है कि बंद दरवाजे की बातें बाहर किसी तरह न आए. इस शो के माध्यम से हम यही उम्मीद करेंगे कि अधिक से अधिक महिलाएं अपनी दिक्कतों पर खुलकर बात करें और अपने लिए उचित कदम उठाएं.” ‘क्रिमिनल जस्टिस : बिहाइंड द क्लोज्ड डोर्स’ में जिशु सेनगुप्ता, आशीष विद्यार्थी, शिल्पा शुक्ला, पंकज सारस्वत, अयाज खान, कल्याण मुले, अजित सिंह पलावत, खुशबू अत्रे और टीरथा मुर्बदकर भी शामिल हैं. इसे डिज्नी प्लस हॉटस्टार वीआईपी पर स्ट्रीम किया जा रहा है. वीडियो में पंकज कहते हैं, “बिना सहमति के यौन संबंध बनाना यौन शोषण है, चाहे वह शादी से पहले हो या बाद.”

Please share this news