Wednesday , 23 June 2021

ममता को लगेगा एक और झटका

कोलकत्ता . पश्चिम बंगाल (West Bengal) चुनाव से ठीक पहले मुख्यमंत्री (Chief Minister) ममता बनर्जी को एक और बड़ा झटका लग सकता है. ऐसी अटकलें हैं कि टीएमसी की स्थापना के समय से ही साथी रहे सिसिर अधिकारी भाजपा का दामन थाम सकते हैं. सिसिर अधिकारी, नंदीग्राम से ममता बनर्जी को चुनौती दे रहे शुभेंदु अधिकारी के पिता हैं और टीएमसी के सांसद (Member of parliament) भी हैं. सिसिर अधिकारी और भगवा पार्टी के नेता मनसुख मंडविया के बीच मुलाकात हुई और माना जा रहा है कि आज पूर्वी मेदनीपुर में अमित शाह की रैली में भी शामिल होंगे. सियासी गलियारों में ऐसी अटकलें तेज हैं कि अमित शाह की मौजूदगी में सिसिर अधिकारी आज टीएमसी छोड़कर भाजपा में शामिल हो सकते हैं. अमित शाह की रैली में शामिल होने के लिए सिसिर अधिकारी को भाजपा ने निमंत्रण भेजा है.

भाजपा नेता मनसुख ने मांडविया ने सिसिर अधिकारी को अमित शाह की आज होने वाली रैली और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की 24 मार्च को मेदिनीपुर के कंठी में सार्वजनिक सभा में शामिल होने के वास्ते आमंत्रित करने के लिए उनके आवास पर गए थे. भाजपा से निमंत्रण मिलने की बात की पुष्टि करते हुए सिसिर अधिकारी के बेटे और टीएमसी के सांसद (Member of parliament) दिब्येंदु अधिकारी ने मीडिया (Media) से कहा कि हमने भाजपा नेतृत्व से बात की है. हम अमित शाह की रैली में शामिल होंगे या नहीं, इस पर निर्णय कल दिब्येंदु अधिकारी के बड़े भाई शुभेंदु अधइकारी ने पिछले साल दिसंबर में अमित शाह की रैली के दौरान ही भाजपा का दामन थामा था. उसके तुरंत बाद सौम्येंदु अधिकारी ने भी टीएमसी छोड़ भाजपा का दामन थाम लिया था. सिसिर अधिकारी के भाजपा में शामिल होने की अटकलों को बल इसलिए भी मिल रहा है क्योंकि टीएमसी ने उन्हें पहले ही प्रतिष्ठित दिघा-शंकरपुर विकास परिषद के चेयरमैन और टीएमसी जिला इकाई के अध्यक्ष पद से हटा दिया है.

इससे पहले अधिकारी ने कहा था कि किसने कहा कि मैं तृणमूल में हूं? क्या तृणमूल ऐसा कहती है? जब से सुवेंदु ने पार्टी छोड़ी है, वे लोग मेरे परिवार, मेरे पूर्वजों को गाली देते रहे हैं. कोलकाता (Kolkata) के एक सज्जन शुभेंदु को मीर जाफर कह रहे हैं जो कि एक गद्दार था. मुझे नहीं पता कि मैं अब तृणमूल में हूं भी. इससे पहले हुगली से भाजपा सांसद (Member of parliament) और चुंचुरा से उम्मीदवार लॉकेट चटर्जी ने अधिकारी के आवास का दौरा किया था और उनके साथ लंच भी किया. हालांकि, उस वक्त भी दोनों ने कन्फर्म नहीं किया था कि सिसिर अधिकारी और उनके बेटे दिब्येंदु अधिकारी भाजपा में शामिल होंगे और अमित शाह की रैली में उपस्थित रहेंगे.

Please share this news