Monday , 10 May 2021

नंदीग्राम को शुभेंदु अधिकारी से बेहतर कोई नहीं जानता

कोलकाता (Kolkata) . पश्चिम बंगाल (West Bengal) में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) नजदीक आते जा रहे हैं, वैसे-वैसे सियासी बयानबाजी धारदार होती जा रही है. सोमवार (Monday) को राज्य की मुख्यमंत्री (Chief Minister) और तृणमूल कांग्रस चीफ ममता बनर्जी ने नंदीग्राम से विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) लड़ने का ऐलान किया. इस सीट को हाल ही में टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी का गढ़ माना जता है. ऐसे में प्रतिक्रियाओं का दौर चलना लाजमी था. ममता बनर्जी के ऐलान के बाद शुभेंदु अधिकारी ने कहा था कि अगर ममता इस सीट से चुनाव जीत जाती हैं तो वह राजनीति छोड़ देंगे. इसपर पश्चिम बंगाल (West Bengal) बीजेपी चीफ दिलीप घोष ने कहा है कि नंदीग्राम को शुवेंदु से बेहतर कौन जानता है यह उनके हाथ में है. यदि उन्होंने यह कहा है, तो वे इसे भी कर सकते हैं. इसके साथ ही उन्होंने कोलकाता (Kolkata) में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हुए पत्थरबाजी के लिए सीधे तौर पर टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा, ‘टीएमसी के शासन में हिंसक राजनीति जारी रहेगी. बीजेपी को रोकने के लिए उनके पास रणनीति है लेकिन यह समय के साथ कमजोर होती गई. हम पश्चिम बंगाल (West Bengal) में बदलाव लाएंगे.

जैसे-जैसे चुनाव नजतीक आ रहे हैं, वे टीएमसी असहज हो रहे हैं और ऐसा कर रहे हैं. हमने टीएमसी को लोकसभा (Lok Sabha) चुनाव में आधी सीट पर रोका और 2021 में सफाया कर देंगे. इससे पहले शुभेंदु अधिकारी ने कहा था, ‘वह (ममता बनर्जी) चुनाव के दौरान ही नंदीग्राम जाती हैं. क्या वह बता सकती हैं कि उन्होंने नंदीग्राम के लोगों के लिए क्या किया है? जो कोई भी उसके खिलाफ चुनाव लड़ेगा, वह 50,000 वोटों से हार जाएगा. अगर मैं उसे हारने में नाकाम रहा, तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा. ममता बनर्जी फिलहाल दक्षिण कोलकाता (Kolkata) के भवानीपुर से विधायक हैं. उन्होंने कहा कि वह कुछ लोगों को बंगाल को भाजपा के हाथों नहीं बेचने देंगी.

उन्होंने कहा, ”जो पार्टी से चले गये, उन्हें मेरी शुभकामनाएं हैं. उन्हें देश का राष्ट्रपति एवं उपराष्ट्रपति बनने दीजिए. लेकिन आप बंगाल को भाजपा के हाथों बेचने का दुस्साहस नहीं करें. जब तक मैं जिंदा हूं, मैं उन्हें अपने राज्य को भाजपा के हाथों नहीं बिकने दूंगी. नंदीग्राम में रैली के दौरान ममता बनर्जी ने कहा, “मैं अगर गलती करती हूं तो मुझे थप्पड़ मारो, लेकिन मुझसे दूर मत जाओ. आपके लिए कौन इतना काम करेगा अगर कोई मुझे बुरा कहता है, तो मैं उन्हें जाने नहीं दूंगी. आपको बता दें कि बीजेपी पश्चिम बंगाल (West Bengal) में पिछले कुछ महीनों से आक्रामक रूप से प्रचार कर रही है. भगवा पार्टी के शीर्ष नेता अमित शाह और जेपी नड्डा लगातार राज्य का दौरा कर रहे हैं. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में 294 सीटों के लिए इसी साल चुनाव होने हैं.

Please share this news