Thursday , 4 March 2021

दुष्कर्म के सबूत खत्म करने मरवा दिया बेटी को!

भोपाल (Bhopal) . राजधानी के रसूखदार प्यारे मियां द्वारा यौन शोषण का शिकार बनाई गई ‎किशाेरी की मां का आरोप है ‎कि उसकी बेटी को दुष्कर्म मामले के सबूत खत्म करने लिए उसकी बेटी को मरवा ‎दिया गया. बालिका गृह में मौजूद चार पीड़िताओं की भी जान को खतरा है. मामले की निष्पक्ष जांच कराके दोषी को सजा मिलना चाहिए. इस मामले की मजिस्ट्रियल जांच चल रही है.

बता दें ‎कि नेहरू नगर स्थित बालिका गृह में रह रही दुष्कर्म पीड़ित बालिका का गुरुवार (Thursday) को कड़ी सुरक्षा के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया. उधर कल शाम को मिली संक्षिप्त पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बालिका की मौत संदिग्ध जहर से होने की पुष्टि हुई है. हमीदिया अस्पताल में भर्ती पीड़िता को बुधवार (Wednesday) रात मृत घोषित कर दिया गया था. गुरुवार (Thursday) दोपहर को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया. शव को एम्बुलेंस से भदभदा स्थित श्मशान घाट पहुंचाया गया. उधर पुलिस (Police) की बस घर से परिजन और अंतिम संस्कार की सामग्री लेकर श्मशान घाट पहुंच गई. भारी पुलिस (Police) बल की मौजूदगी में बालिका का अंतिम संस्कार कर दिया गया. इस दौरान परिजन बुरी तरह बिलख रहे थे. बालिका की मां ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री (Chief Minister) बेटी बचाओ की बात करते हैं. उनकी बच्ची सुरक्षा व्यवस्था के बीच मार दी गई. मुझे न्याय चाहिए.

मां ने आरोप लगाया कि सबूत खत्म करने के लिए ही उसकी बेटी को जहर देकर मरवा दिया गया है. ज्ञात हो कि पांच नाबालिगों का यौन शोषण करने के आरोप में पुलिस (Police) ने जुलाई 2020 में शहर के रसूखदार प्यारे मियां को गिरफ्तार किया था. वह अभी जेल में है. उधर पीड़ित बालिकाओं को बाल कल्याण समिति के आदेश पर नेहरू नगर स्थित बालिका गृह में रखा था. सोमवार (Monday) का दो पीड़ित बालिकाओं को नींद की गोली का ओवर डोज लेने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इनमें से एक को तो अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी, लेकिन दूसरी बालिका हमीदिया अस्पताल में भर्ती थी. बुधवार (Wednesday) रात को उसने दम तोड़ दिया था. इस बारे में एएसपी रजत सकलेचा ने बताया कि मृत बालिका की संक्षिप्त पीएम रिपोर्ट मिल गई है. उसमें बालिका की मौत का कारण संदिग्ध जहर बताया गया है. जहर की जांच के लिए विसरा सैंपल प्रयोगशाला भेजा गया है. उधर बालिका गृह में पुलिस (Police) सुरक्षा और सख्त कर दी गई है.

Please share this news