Thursday , 15 April 2021

दिल्ली के चिड़ियाघर में टिकट काउंटर बंद पर्यटकों के लिए नई व्यवस्था शुरू

नई दिल्ली (New Delhi) . चिड़ियाघर प्रशासन कोरोना काल में पर्यटकों को प्रवेश देने के लिए सभी तैयारियों में जुटा है. कोरोना के चलते पर्यटकों को अब ई-टिकट से प्रवेश मिलेगा. इसके लिए पर्यटकों को चिड़ियाघर की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन बुकिंग करनी होगी. रविवार (Sunday) को केंद्रीय राज्य पर्यावरण मंत्री बाबुल सुप्रियो ने इसको लॉन्च किया. अब चिड़ियाघर की वेबसाइट को भी नया स्वरूप दिया गया है. जिस पर पर्यटकों को अब कई दूसरी रोचक जानकारी मिलेंगी.

चिड़ियाघर के निदेशक रमेश पांडेय ने बताया कि कोरोना काल में पर्यटकों के प्रवेश की प्रक्रिया को सुरक्षित बनाना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है. इसके लिए ऑनलाइन ई-टिकट की शुरूआत की है. जब कभी भी भविष्य में चिड़ियाघर को पर्यटकों के लिए खोला जाएगा तो ई-टिकट से ही प्रवेश मिलेगा. काउंटर वाली टिकट खिड़किया बंद रहेंगी. उन्होंने बताया कि ई-टिकट की प्रक्रिया को पूरी तरह से सुविधाजनक बनाया है. क्यूआर कोड के जरिए ई-टिकट को स्कैन करना होगा. वेबसाइट पर ऑनलाइन टिकट जारी होने के बाद एक नंबर जारी होगा. बिना स्मार्टफोन धारक भी उस नंबर के आधार पर चिड़ियाघर में प्रवेश पा सकेंगे. पर्यटक को उसकी जानकारी प्रवेश द्वार पर तैनात कर्मचारी को देनी होगी. यह नंबर केवल एक बार ही प्रयोग में लाया जा सकेगा.

चिड़ियाघर को सरकार द्वारा दिशा-निर्देशा मिलने के बाद ही खोला जाएगा. कानपुर (Kanpur) से पिछले महीने दिल्ली आई बरखा नाम की बाघिन को 30 दिन की क्वरांटाइन की अवधि पूरा करना के बाद बाड़े में रविवार (Sunday) को छोड़ा गया. इसके लिए बाड़े को फूलों से खासतौर पर सजाया गया था. चिड़ियाघर में पिछले छह वर्षों से कोई मादा रॉयल बंगाल बाघिन नहीं थी. जिसके आने से अब एक जोड़ा पुरा हो गया. करण नाम के बाघ को बरखा बाघिन का साथ मिल गया है. वहीं चिड़ियाघर में सफेद बाघों की संख्या पांच है. वहीं, चिड़ियाघर प्रशासन द्वारा वन्यजीवों के लिए दावत सप्ताह मनाया जा रहा है. इस कड़ी में रविवार (Sunday) को हिरण प्रजाति के वन्यजीवों को उनके पसंद की चीजें खाने के लिए दी गई.

Please share this news