Friday , 14 May 2021

छत्तीसगढ़ में गठित होगा तेलघानी बोर्ड : मुख्यमंत्री

महासमुंद, . छत्तीसगढ़ में तेलघानी बोर्ड का गठन किया जाएगा. मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल ने महासमुंद में साहू समाज के संभाग स्तरीय युवक-युवती परिचय सम्मेलन, पत्रिका विमोचन एवं अलंकरण समारोह को संबोधित करते हुए यह घोषणा की. तेलघानी बोर्ड के गठन से इस कार्य से जुड़े लोगों को एक नई पहचान मिलेगी और रोजगार के नये अवसर मिलेंगे.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) बघेल ने कहा कि साहू समाज प्रगतिशील समाज है. इस समाज ने शिक्षा सहित अन्य सामाजिक क्षेत्रों में सदैव अग्रणी कार्य किया है. कोरोना काल में भी सभी समाजों ने आगे बढ़कर काम किया. हमारे राज्य के सभी समाज की खूबी यह है कि हर परिस्थितियों के हिसाब से वे अपने आप को ढाल लेते है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) बघेल ने इस मौके पर तेलघानी बोर्ड बनाने की घोषणा की. इसके बनने से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे, साथ ही मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने समाज की माँग पर रायपुर (Raipur) (Raipur) संभाग के पाँचों जिले रायपुर (Raipur), महासमुन्द, धमतरी, गरियाबंद, बलौदाबाजार में सामाजिक भवन निर्माण के लिए 20-20 लाख रुपए देने की घोषणा भी की.मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल ने कहा कि कोरोना काल में भी साहू समाज सहित सभी समाजों ने आगे आकर अपनी सामाजिक दायित्वों का निर्वहन बाखूबी किए हैं. इसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं.

कार्यक्रम की अध्यक्षता गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने की. जिले के साहू समाज द्वारा महासमुंद में पहली बार संभाग स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया. विशिष्ट अतिथि के तौर पर संसदीय सचिव एवं खल्लारी विधायक द्वारिकाधीश यादव, पूर्व मंत्री एवं अभनपुर विधायक धनेन्द्र कुमार साहू, प्रदेश अध्यक्ष अर्जुन हिरवानी, मोतीलाल साहू सहित महासमुन्द विधायक विनोद चन्द्राकर, बसना विधायक देवेन्द्र बहादुर सिंह और सरायपाली विधायक किस्मतलाल नंद, कसडोल विधायक सु शकुन्तला साहू, पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष थानेश्वर साहू सहित अन्य जन प्रतिनिधिगण एवं समाज प्रमुख उपस्थित थे.

गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि किसी भी समाज की बुराई को दूर करने के लिए सबसे पहले अपने आप में सुधार लाना आवश्यक हैं तभी समाज में सुधार हो सकता हैं. हम सुधरेंगे तभी हम अच्छे समाज का निर्माण कर पायेंगे. हमारे समाज के लोगों को अपने से कमजोर वर्ग के लोगों का विशेष ध्यान रखना चाहिए और उन्हें आगे बढ़ाने के लिए कार्य करना चाहिए. कार्यक्रम को पूर्व मंत्री एवं विधायक धनेन्द्र साहू ने भी संबोधित किया.

Please share this news