Saturday , 8 May 2021

चौथे टेस्ट मैच के लिए भारत ने मैदान में उतारे 20 खिलाड़ी, 143 साल में पहली बार हुआ ऐसा

नई दिल्ली (New Delhi) . भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुक्रवार (Friday) से ब्रिस्बेन में चौथा टेस्ट मैच शुरू हुआ. इस मैच में भारत की ओर से तेज गेंदबाज टी नटराजन और ऑफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर ने डेब्यू किया. इन दोनों का खेलना भारत की कोई स्ट्रेटजी नहीं, बल्कि मजबूरी है. दरअसल, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में भारत के इतने अधिक खिलाड़ी चोटिल हुए हैं कि उसे दौरे पर गए तकरीबन सभी खिलाड़ियों को किसी ना किसी मैच में उतारना पड़ा है.

टी. नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर को मिलाकर भारत मौजूदा टेस्ट सीरीज में 20 खिलाड़ी उतार चुका है. यह 143 साल के इतिहास में पहला मौका है जब किसी टीम ने विदेशी दौरे पर एक टेस्ट सीरीज में इतने अधिक खिलाड़ियों को अपनी प्लेइंग इलेवन में शामिल किया है. इससे पहले यह रिकॉर्ड 18 खिलाड़ियों का था. इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2013-14 की एशेज सीरीज में 18 खिलाड़ी मैदान पर उतारे थे.

भारत ने पहला टेस्ट मैच 1932 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था. तब से अब तक भारत के लिए 301 क्रिकेटर टेस्ट मैच खेल चुके हैं. टी नटराजन भारत के 300वें और वॉशिंगटन सुंदर 301वें टेस्ट क्रिकेटर हैं. दुनिया का पहला टेस्ट क्रिकेट 1877 में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया था. तब से अब तक 2404 टेस्ट मैच खेले गए हैं.

Please share this news