Monday , 25 January 2021

चीन, ईरान और रूस बाइडेन को जिताने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में कर रहे हस्तक्षेप : ब्रायन

वाशिंगटन . अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) रॉबर्ट ओ ब्रायन ने कहा है कि चीन, ईरान और रूस अमेरिकी चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि इनमें से कुछ डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन को अगले राष्ट्रपति के तौर पर व्हाइट हाउस में देखना चाहते हैं. पत्रकारों से बातचीत में ओ ब्रायन ने कहा जब चुनाव की बात आती है तो खुफिया समुदाय ने स्पष्ट कर दिया है कि पहला चीन है. जो अमेरिका की राजनीति को प्रभावित करने के लिए सबसे अधिक बड़े पैमाने पर कार्यक्रम चला रहा है. उसके पीछे-पीछे ईरान और रूस भी हैं. उन्होंने दावा किया कि तीनों शत्रु देश अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में बाधा उत्पन्न करना चाहते हैं.

गौरतलब है कि तीन नवंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान होगा और रिपब्लिकन पार्टी की ओर से मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को दोबारा प्रत्याशी बनाया गया हैं, जबकि उनके मुकाबले में डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रत्याशी और पूर्व उप राष्ट्रपति जो बाइडेन हैं. अब तक हुए सर्वेक्षण में बाइडेन आगे चल रहे हैं, लेकिन गत दो हफ्तों में ट्रम्प तेजी से इस अंतर को पाटते नजर आ रहे हैं.
अमेरिकी सुरक्षा सलाहकार ओ ब्रायन ने एक सवाल के जवाब में कहा, कुछ बाइडेन को चाहते हैं, जबकि कुछ लोग कहते हैं कि वे राष्ट्रपति को तरजीह देते हैं. मेरा मानना है कि यह देश चाहता है कि किसी भी देश को स्वतंत्र और पारदर्शी अमेरिकी चुनाव में हस्तक्षेप से रोका जाना चाहिए. उन्होंने कहा हमने अभूतपूर्व कदम उठाया है. राष्ट्रपति ने अभूतपूर्व तरीके से हमारे चुनावी अवंसरचना के लिए कोष जुटाने की प्रक्रिया को सख्त बना मिसाल पेश की है. चाहे वह साइबर के जरिए हो या अन्य तरीकों से.

Please share this news