Sunday , 6 December 2020

चालू वित्त वर्ष में रत्नों व आभूषणों के निर्यात में गिरावट आ सकती : GJEPC


मुंबई (Mumbai) . कोरोना महामारी (Epidemic) के कारण सामने आए व्यवधानों के चलते चालू वित्त वर्ष में रत्नों व आभूषणों के निर्यात में 20 से 25 प्रतिशत तक की गिरावट आ सकती है. एक उद्योग संगठन ने शनिवार (Saturday) को इसकी जानकारी दी. रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्धन परिषद (जीजेईपीसी) के आंकड़ों के अनुसार, 2019-20 के दौरान इनका निर्यात 2,52,249.46 करोड़ रुपये रहा था.

जीजेईपीसी के चेयरमैन कोलिन शाह ने पांच दिवसीय वर्चुअल इंडिया इंटरनेशनल ज्वैलरी शो के अंतिम दिन कहा,पिछले साल की तुलना में चालू वित्त वर्ष में हमें निर्यात में 20-25 प्रतिशत की गिरावट आने का अनुमान है. मांग में धीरे-धीरे सुधार के साथ हम अगले साल 2019-20 के स्तर पर पहुंच सकते हैं. वृद्धि 2021-22 तक ही संभव है. इस साल आईआईजेएस में 300 से अधिक प्रदर्शकों और दस हजार से अधिक खरीदारों ने भाग लिया. इसमें अमेरिका, ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात, कतर, सिंगापुर, बांग्लादेश, नेपाल, ओमान, पाकिस्तान, हांगकांग, इटली, मिस्र, बेल्जियम, तुर्की और लंका जैसे देशों के लोगों ने भागीदारी की. इसमें 9,900 से अधिक बैठकें आयोजित हुईं. इस कार्यक्रम से एक हजार करोड़ रुपये से अधिक के कारोबार का सृजन हुआ.