Monday , 10 May 2021

कोचिंग सिटी में वापस लौटने लगे स्टूडेंट्स, एडमिशन की कर रहे पूछताछ

कोटा . कोचिंग सिटी कोटा में एक बार ‎फिर से हलचल बढ़ गई. शहर के रेलवे (Railway)स्टेशन, बस स्टैंड, कोचिंग इंस्टीट्यूट, हॉस्टल्स, मैस व मॉल्स में रौनक ‎दिखने लगी है. रेलवे (Railway)स्टेशन पर कोचिंग स्टूडेंट्स नजर आने लगे हैं और कोचिंग संस्थानों के एडमिशन डेस्क पर पूछताछ सुबह से शाम तक होने लगी है. दरअसल, कोरोना (Corona virus) संक्रमण के चलते 10 माह से बंद कोचिंग संस्थान अब 18 जनवरी से शुरू होने जा रहे है. इसके लिए स्टूडेंट्स पहले ही दिन से पढ़ाई के लिए कोटा आने लगे हैं. कोटा में वर्तमान में करीब 25 हजार स्टूडेंट्स हैं. हजारों स्टूडेंट्स की ऑफलाइन क्लासेज सोमवार (Monday) से शुरू हो जाएगी. कोचिंग संस्थानों में कोविड गाइडलाइन को पूरी तरह से फोलो किया जा रहा है.

यही नहीं कोचिंग कैम्पस के क्लासरूम में भी तैयारी के लिए साफ-सफाई से लेकर अन्य व्यवस्थाएं की जा रही हैं. राज्य सरकार (State government) की कोविड-गाइड लाइन की पालना के तहत जिला प्रशासन द्वारा जारी की गई एसओपी की पालना के भी कोचिंग, हॉस्टल व मैस में पूरे प्रबंध किए गए हैं. बताया जा रहा है ‎कि कोचिंग इंस्टीट्यूट के क्लासरूम में स्टूडेंट्स को बैठने के ‎लिए मार्किंग की गई है, वहीं फुट स्टीकर के माध्यम से स्टूडेंट्स को चलते समय सोशल डिस्टेंसिंग रखने का संदेश दिया जा रहा है. एंट्री प्वाइंट पर सैनेटाइजेशन, टेम्परेचर लेने की व्यवस्थाएं भी की गई है. इसके अलावा कैम्पस में कोविड जागरूकता के लिए पोस्टर और स्लोगन लगाए गए हैं. क्लासेज में विद्यार्थियों की संख्या में कमी के साथ ही सैनेटाइजेशन की भी व्यवस्था की गई है.

शहर के एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट में विद्यार्थियों को स्वस्थ व स्वच्छ माहौल देने के लिए अल्ट्रा वायलट सेनेटाइजेशन किया जा रहा है, यहां क्लासरूम में अल्ट्रा वायलट सैनेटाइजेशन सिस्टम लगाया जा रहा है, जिसमें सेंसर्स भी लगे हुए हैं. इतना ही नहीं, क्लासरूम खाली होने के साथ सैनेटाइजेशन शुरू हो जाएगा. निर्धारित समय तक सैनेटाइजेशन के बाद ऑटोऑफ हो जाएगा. कोटा में क्लासरूम कोचिंग शुरू होने से हर वर्ग के चेहरे पर खुशी है, यहां सड़क किनारे थड़ियां लगाकर आजीविका कमाने वाले लोगों से लेकर बड़े होटल, रेस्टोरेंट तथा अन्य व्यवसाय करने वाले सभी खुश हैं.

Please share this news