Saturday , 15 May 2021

किसान संगठनों में खटपट, गुरनाम सिंह चढूनी ने शिवकुमार कक्का को बताया आरएसएस का एजेंट

गुरनाम सिंह चढूनी पर कांग्रेस नेताओं से मुलाकात करने का आरोप

नई दिल्ली (New Delhi) . पिछले 50 दिनों से भी ज्यादा समय से बड़ी संख्या में किसान नए कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं. 40 से ज्यादा किसान मजदूर यूनियन आंदोलन का नेतृत्व कर रहे हैं, लेकिन क्या किसान संगठनों के बीच सब कुछ ठीक नहीं है?
दरअसल, हरियाणा (Haryana) के भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढूनी को संयुक्त किसान मोर्चा से बाहर का रास्ता दिखाकर उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के लिए कमेटी भी बनाई गई है. किसान नेता शिवकुमार कक्का के मुताबिक गुरनाम सिंह चन्नी पिछले कुछ दिनों से विपक्षी पार्टियों से दिल्ली के मावलंकर हॉल में मुलाकात कर उनकी बैठकों में शामिल हो रहे थे. वहीं, किसान मोर्चे की बैठक से नदारद रह रहे थे.

उधर, अपने खिलाफ हुई कार्रवाई से नाखुश गुरनाम सिंह ने शिव कुमार कक्का को आरएसएस का एजेंट करार देकर कहा कि यह कार्रवाई उनके इशारे पर हुई है. गुरनाम सिंह के आरोप पर शिवकुमार कक्का ने कहा कि उनका बयान क्रिया की प्रतिक्रिया है. शिव कुमार का कहना है कि गुरनाम सिंह ने संयुक्त मोर्चा की नीतियों के खिलाफ जाकर राजनीतिक दलों के साथ बैठक की. किसान संगठन इस आंदोलन का राजनीतिकरण नहीं होने देना चाहते है.

हाल ही में गुरनाम सिंह चन्नी ने कांग्रेस के नेताओं के साथ मुलाकात की, जिसके बाद संयुक्त मोर्चा ने उनके खिलाफ कार्रवाई की थी. किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के नेता सतनाम सिंह पन्नू का भी कहना है गुरनाम सिंह के इस कदम के चलते किसानों और किसान संगठनों में नाराजगी है. इसकारण उनके खिलाफ कार्रवाई की गई.

किसान नेता प्रेम कुमार भंगू मानते हैं कि कदम से भले संदेश जाए संगठनों में सब कुछ ठीक नहीं है, लेकिन संयुक्त किसान मोर्चा की नीतियों के खिलाफ जाने की अनुमति किसी भी संगठन को नहीं है. अभी उनके खिलाफ कोई कड़ी कार्रवाई नहीं की गई है, बल्कि एक कमेटी का गठन किया गया है, जिसके सामने गुरनाम सिंह को पेश होकर अपनी सफाई देनी है.
ऐसा भी हो सकता है कि गुरनाम को फिर से संयुक्त मोर्चा का हिस्सा बना जाएं, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई ना हो. भंगू कहते हैं कि फिलहाल संदेश सिर्फ इतना है कि अनुशासन कोई ना तोड़े और आंदोलन का राजनीतिकरण ना होने दें क्योंकि सरकार भी यही आरोप लगा रही है.

Please share this news