Friday , 14 May 2021

किसान आंदोलन के दौरान गुरनाम चढूनी पर 10 करोड़ लेने का आरोप

हिसार . किसान आंदोलन के दौरान पहली बार संयुक्त मोर्चा की बैठक में किसानों में फूट नजर आई. रविवार (Sunday) को मीटिंग में हरियाणा (Haryana) भाकियू के अध्यक्ष गुरनाम चढूनी पर आंदोलन को राजनीति का अड्डा बनाने, कांग्रेस समेत राज नेताओं को बुलाने और दिल्ली में सक्रिय हरियाणा (Haryana) के एक कांग्रेस नेता से आंदोलन के नाम पर करीब 10 करोड़ रुपए लेने के गंभीर आरोप लगे. आरोप था कि वह कांग्रेसी टिकट के बदले हरियाणा (Haryana) सरकार को गिराने की डील भी कर रहे हैं. चढूऩी ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज किया है. बैठक की अध्यक्षता कर रहे किसान नेता शिव कुमार कक्का ने बताया कि बैठक में मोर्चा के सदस्य उन्हें तुरंत मोर्चे से निकालना चाहते थे. लेकिन आरोपों की जांच को 5 सदस्यों की कमेटी बनाई गई जो 20 जनवरी को रिपोर्ट देगी. उसी आधार पर फैसला लिया जाएगा.

Please share this news