Wednesday , 16 June 2021

कांग्रेस ने तेज की दमोह उपचुनाव की तैयारियां

भोपाल (Bhopal) . मप्र में फिर एक और उपचुनाव होने जा रहा है. इस बार दमोह सीट विधानसभा सीट पर बिगुल फूंका जाने वाला है. उपचुनाव में बुरी तरह हार चुकी कांग्रेस दुविधा में है कि वो किसे प्रत्याशी बनाए क्योंकि ये सीट यहां से पार्टी विधायक राहलु लोधी के दल बदलकर भाजपा में जाने से ही खाली हुई है.

28 विधानसभा सीट के उप चुनाव के बाद अब दमोह सीट पर उपचुनाव के लिए भाजपा और कांग्रेस के बीच घमासान तेज हो गया है. दमोह सीट पर कब्जा जमाने के लिए भाजपा ने चुनावी बिसात पर अपनी चाल तेज कर दी हैं. अपनी तैयारी में भाजपा इतनी आगे है कि मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान एक बार दमोह दौरा भी कर चुके हैं. लेकिन मुश्किल कांग्रेस पार्टी के लिए है.

अजय टंडन समर्थकों का डेरा

कांग्रेस अभी अपनी रणनीति बनाने और उम्मीदवार तय करने पर ही उलझी हुई है. भाजपा के मुकाबले मजबूत उम्मीदवार की तलाश कांग्रेस के लिए मुश्किल बन गई है. वहीं कांग्रेस में दावेदारों ने अपना शक्ति प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है. दमोह कांग्रेस जिला अध्यक्ष अजय टंडन के समर्थकों ने भाजपा में प्रदेश कांग्रेस दफ्तर में जीतू पटवारी समेत कई नेताओं से मुलाकात कर अजय टंडन को टिकट देने की मांग की. इन लोगों ने भोपाल (Bhopal) में डेरा डाल दिया है. कांग्रेस नेता राशु चौहान ने कहा दमोह सीट पर यदि अजय टंडन को पार्टी उम्मीदवार बनाती है तो पार्टी की जीत पक्की है.

उम्मीदवार के लिए माथा पच्ची

लेकिन कांग्रेस अभी अपना उम्मीदवार तय नहीं कर पा रही है. उम्मीदवार चयन के लिए कमलनाथ ने कमेटी बनाई है, जिसमें पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर को शामिल किया गया है. बृजेंद्र सिंह राठौर का कहना है उम्मीदवार तय करने के लिए पार्टी में कोई मुश्किल नहीं है जल्द ही नाम का ऐलान कर दिया जाएगा.

दलबदल कर भाजपा में गए लोधी

2018 के विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) में दमोह सीट कांग्रेस के खाते में चली गयी थी. राहुल लोधी वहां से जीते थे. लेकिन लोधी ने दलबदल कर भाजपा ज्वाइन कर ली. सीट खाली हुई और अब इस पर उपचुनाव हो रहा है. इसलिए भाजपा इस सीट को दोबारा अपने कब्जे में करने के लिए जी-तोड़ मेहनत कर रही है. पार्टी ने मंत्री गोपाल भार्गव को यहां की जिम्मेदारी सौंप दी है. भार्गव ने दावा किया कि दमोह सीट पर भाजपा की जीत होगी. क्षेत्र के विकास के लिए पार्टी ने कई बड़े फैसले किए हैं जो उपचुनाव में असरदार साबित होंगे. भाजपा साफ कर चुकी है कि राहुल लोधी ही उसके उम्मीदवार होंगे.

25 को कमलनाथ की सभा

पीसीसी चीफ कमलनाथ 25 मार्च को दमोह सीट पर चुनाव प्रचार की शुरुआत करेंगे. वो इस दिन वहां एक चुनाव सभा करने की तैयारी में हैं. पार्टी उससे पहले उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर देगी. लेकिन एक तरफ जहां भाजपा अपने तय चेहरे के साथ चुनाव मैदान में है, वहीं कांग्रेस के सामने उम्मीदवार तय करना फिलहाल चुनौती बनता नजर आ रहा है.

Please share this news