Sunday , 27 September 2020

कांग्रेस के पत्र लिखने वाले 23 नेता कार्यसमिति के नतीजों पर चर्चा करने के लिए बैठक करेंगे


नई दिल्ली (New Delhi) . कांग्रेस के पत्र लिखने वाले 23 नेता इस कदम के नतीजों पर चर्चा करने के लिए बैठक करेंगे. इन नेताओं ने पत्र लिखकर पार्टी में सुधार, निष्पक्ष आंतरिक चुनाव और एक पूर्णकालिक नेतृत्व की वकालत की थी. पत्र को लेकर काफी विवाद हुआ. पत्र में हस्ताक्षर करने वाले नेताओं में गुलाम नबी आजाद और कपिल सिब्बल जैसे वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शामिल हैं.

इससे पहले सोमवार (Monday) को हुई कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक सात घंटे तक चली. पत्र को लेकर तीखी आलोचनाओं के बीच बैठक के बाद चिट्ठी लिखने वालों में शामिल कुछ नेताओं ने गुलाम नबी आजाद के घर पर बैठक की. इस बैठक में कपिल सिब्बल, मनीष तिवारी (Manish Tiwari), मुकुल वासनिक, आनंद शर्मा और शशि थरूर शामिल थे. इन नेताओं की दूसरी बैठक में सोमवार (Monday) की बैठक से निकले प्रमुख नतीजों पर चर्चा होने की उम्मीद है.

सोमवार (Monday) को हुई बैठक के बाद कांग्रेस ने कहा कि नया अध्यक्ष चुने जाने तक सोनिया गांधी पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी. नए अध्यक्ष चुनने की प्रक्रिया के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी को 6 महीने का समय दिया गया है. कांग्रेस ने शिकायतों की जांच-पड़ताल करने के लिए एक समिति गठित करने का भी फैसला किया है.

सूत्रों ने कहा, “चिट्ठी लिखने वाले नेता ये सुनिश्चित करना चाहते हैं कि पत्र में लिखी गई मांगों पूरी हो रही है. इसमें कांग्रेस कार्यसमिति का चुनाव और जमीनी स्तर पर काम करने वाले जिला अध्यक्षों की नियुक्ति शामिल है.” सूत्रों ने बताया, “इन नेताओं को उम्मीद है कि समिति का जल्द ही गठन किया जाएगा और वे हिस्सा होंगे ताकि आंतरिक चुनाव और पूर्णकालिक सक्रिय कांग्रेस अध्यक्ष और कांग्रेस कार्यसमिति की नियुक्ति के लिए पार्टी को तैयार कर सकें और दिशा दिखा सकें.”