Monday , 8 March 2021

अयोध्या में आकार लेने वाला भव्य राम मंदिर हमारी संस्कृति और सामूहिक शक्ति का प्रतीक बनेगाः मुख्यमंत्री

अहमदाबाद (Ahmedabad) . मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी ने कहा कि राम जन्मभूमि में आकार लेने वाला भव्य राम मंदिर (Ram Temple) हमारी संस्कृति और सामूहिक शक्ति का प्रतीक बनेगा. उन्होंने कहा कि अयोध्या (Ayodhya) में बनने वाले भव्य राम मंदिर (Ram Temple) के कार्य में देश के करोड़ों लोग यथाशक्ति समर्पण कर अपनी भावनाएं अभिव्यक्त कर रहे हैं.

राजकोट (Rajkot) के प्रमुख स्वामी ऑडिटोरियम में आयोजित निधि समर्पण अभियान के अंतर्गत श्रेष्ठियों और दाताओं के अभिनंदन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रूपाणी ने कहा कि गुजरात (Gujarat) ने भी राम मंदिर (Ram Temple) निर्माण के लिए काफी संघर्ष कर बलिदान दिया है. भगवान राम का चरित्र अनादि काल से लोगों के लिए प्रेरणादायी रहा है और आज भी भगवान राम करोड़ों लोगों की आस्था के केंद्र हैं. मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी आज राजकोट (Rajkot) में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र मंदिर निर्माण निधि समर्पण अभियान में सहभागी हुए और 5 लाख रुपए की राशि का चेक भागवत कथाकार रमेशभाई ओझा को मंदिर निर्माण कार्य के लिए सौंपा. इस मौके पर उन्होंने देशभर में चल रहे समर्पण निधि अभियान के तहत गुजरात (Gujarat) के लोगों से मंदिर निर्माण कार्य में यथासंभव योगदान देने की अपील की.

भागवत कथाकार रमेशभाई ओझा ने मौन व्रत होने की वजह से रिकॉर्डेड वीडियो के जरिए निधि महा अभियान में उत्साहपूर्वक भाग लेते हुए समर्पण यज्ञ में आहुति देने का प्रेरक संदेश दिया. राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र मंदिर निर्माण समर्पण अभियान राजकोट (Rajkot) महानगर के अंतर्गत विशेष निमंत्रित श्रेष्ठियों ने समर्पण अभियान में अपना योगदान दिया. इस अवसर पर दाताओं को सम्मानित भी किया गया.

Please share this news